दशरथ राज दुलारे अवधपुर आ ही गए

दशरथ राज दुलारे अवधपुर आ ही गए

आ ही गए आ ही गए,
दशरथ राज दुलारे,
अवधपुर आ ही गए,
कौशल्या के प्यारे,
अवधपुर आ ही गए।।



अवधपुरी सज गई दुल्हन सी,

व्याकुलता हुई खत्म ये मन की,
भक्तन के रखवारे,
अवधपुर आ ही गए,
भक्तन के रखवारे,
अवधपुर आ ही गए।।



राह तकत है पलक बिछाए,

सिया संग रघुवर है आए,
जागे भाग्य हमारे,
अवधपुर आ ही गए,
जागे भाग्य हमारे,
अवधपुर आ ही गए।।



भाग जगे जो अब तक सोए,

असुवन से चरणन को धोए,
है प्राणों से प्यारे,
अवधपुर आ ही गए,
है प्राणों से प्यारे,
अवधपुर आ ही गए।।



देवी देवता नाचे गाए,

अवध निवासी मंगल गाए,
झूमे हनुमत प्यारे,
अवधपुर आही गए,
झूमे हनुमत प्यारे,
अवधपुर आ ही गए।।



आ ही गए आ ही गए,

दशरथ राज दुलारे,
अवधपुर आ ही गए,
कौशल्या के प्यारे,
अवधपुर आ ही गए।।

Singer – Chhaya Singhal


Comments

No comments yet. Why don’t you start the discussion?

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *